Sanghatan Ki Sakti Motivational Story In Hindi संगठन शक्ति

sangthan shkti in hindi
 संगठन शक्ति

 2010 में रीलिज हुई  सुपरहिट फिल्म अजब प्रेम की गजब कहानी का हैप्पी क्लब तो याद ही होगा ना और इसी से प्रेरित होकर कॉलेज के पॉच दोस्तो ने मिलकर अपना भी एक संगठन तैयार कर लिया , अब संगठन तो बन गया, अब इसे चलाने के लिए, इसमें कार्य करने के लिए जरूरत होंगी पैसो की , तब इन लोगो ने तरकीब निकाला कि फोटोकॉपी मशीन लेंगे,
फिर क्या इन लोगो का दिमाग दौड़ते टाइम न लगा। इन लोगो ने मिलकर  बड़े- बड़े व्यापारियों, राजनीतिक दल, प्रायवेट संस्थान आदि से संपर्क कर वहॉ से विज्ञापन लाते और फोटोकॉपी में एक साइड  विज्ञापन होते थे, और एक खास बात ये थी कि हैप्पी क्लब फ्री में सबका फोटोकॉपी करते थे। 

हैप्पी क्लब वाले मिलकर कार्य करते और जो पैसे मिलते उसका कुछ पैसे हैप्पी क्लब में लगाते  व बाकीं बचत पैसे समाज कल्याण में, जैसे गरीब झुग्गी बस्तियों में चादरे बांटना, फुटपाथ में सोये लोगो को कपड़े, खाने- पीने की वस्तुए उपलब्ध कराना, गली मोहल्लो के कुत्तो को रोटी खिलाना इस तरह के कार्य करते थे। इससे हैप्पी क्लब वालो को दो तरह के फायदे होते थे, एक समाज कल्याण से हैप्पी क्लब का प्रचार- प्रसार और दूसरा इन लोगो को इस कार्य के लिए किसी से चंदा इकठ्ठा करने की जरूरत न थी क्योंकि विज्ञापन के पैसे से सब हो जाता था.
हैप्पी क्लब संगठन का अगला कदम था उन लोगो ने हैप्पी क्लब के नाम से एक नंबर लिया और स्लोगन दिया ” बंदा तैयार है “, हॉ इस नंबर पे कॉल करके अपने प्रॉब्लम या कोई और सुचना बताने पर हैप्पी क्लब पुर्ण सहयोग करते।
पॉच छात्र- छात्राओं द्वारा बनाया गया इस  संगठन ने कई ऐसे कार्य किये जैसे- गरीब बच्चो को ट्युशन पढ़ाना, युवाओं को रक्तदान करने के लिए प्रेरित करना, छेड़छाड़ करने वाले असमाजिक तत्वो को मजा चखाने का कार्य किए। हैप्पी क्लब वालो के पास कुछ भी कार्य के लिए नामुमकिन जैसा कुछ भी नही है, कुछ भी कार्य के लिए वो पुरे लगन से उस कार्य को सफल करने के लिए जुट जाते है।
अभी हाल ही में हैप्पी क्लब वालो ने स्वच्छ  भारत अभियान से जुड़ गए है, हर रविवार साफ – सफाई का समान लेकर वो किसी एक कालोनी का चुनाव करते हैं और की पुरी साफ – सफाई करके वहॉ के लोगो को समझाइस देकर आते है कि आगे से वहॉ गंदगी न फैलाये. ” भारत की शॉन, स्वच्छ भारत, सुंदर भारत ” इस तरह के मैसेज लिखा हैप्पी क्लब का पाम्प्लेट लगा कर आते है।
छोटा सा समुह हैप्पी क्लब आज बहुत बड़ा रूप ले चुकी है, इसमे कई मेम्बर जुड़ चुके है, इनके पास कई व्यापारियों के विज्ञापन के लिए लाइने लगी है, कई राजनीतिक दल साथ देने के लिए तैयार हैं। हैप्पी क्लब के पास आज दुध डेयरी, फार्म हाउस, रिटायर्ड लोगो  के लिए कम्प्युटर क्लास, लाइब्रेरी है। आगे भी इन लोगो का समाज कल्याण के लिए कार्य जारी रहेगा। हैप्पी क्लब वालो के पास संगठन शक्ति है, आज ये संगठन सुचारू रूप से चल रहा है क्योकि इस संगठन का मुख्य गुण है एकता और एकता में बड़ी शक्ति होती है।
हैप्पी क्लब एक समाज सेवी संस्थान है, समाज सेवा के साथ – साथ एक अच्छी लाइफ स्टाइल के लिए पैसे भी तो चाहिए, इसके लिए इन लोगो ने मिलकर एक इवेंट कम्पनी तैयार कर ली जिसका नाम रखा ” हैव फन ” . चुंकि हैप्पी क्लब ने पहचान और ख्याति दिला दी है तो हैव फन का प्रचार – प्रसार करने की आवश्यकता नही हुई व ये कम्पनी सफलतापूर्वक चल रही है।  हैव फन ने कॉलेज सांस्कृतिक प्रोग्राम, बर्थडे सेलेब्रेशन, फैशन शो आदि इवेंट करवा चुके है, और आगे भी इनके पास अनेक इवेंट्स है।
Moral  : –  संगठन में शक्ति है, इस मुल – मंत्र को समझें और क्रियांवित करे, संगठन से बड़ी और कोई शक्ति नही है, बिना संगठन के कोई भी देश व समाज सुचारू रूप से नही चलता, संगठन ही समाज का दीपक है, संगठन ही समाज का दीपक है, संगठन ही शांति का खजाना है, संगठन ही समाजोत्थान का आधार है, संगठन किसी भी क्षेत्र में क्यों न हो वह सदैव अच्छा होता है, संगठन सर्वोत्कृष्ट शक्ति है व प्रगति का प्रतीक हैं।

कहानी लेखक 
Maneesha Madaria
 You must read also ……………
——————————————————————
 यह आर्टिकल कैसा लगा comments जरूर करे , ताकि हम और useful knowledge post कर पाये। और अगर आप के पास कोई motivational Hindi story या article है तो हमे भेजे हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ पोस्ट करेंगे। Thanks . हमारी e-mail id- [email protected] है। – See more at: http://moralmantra.blogspot.in/2015/10/manjil-ab-dur-nahi-story-in-hindi.html#sthash.YXViQcD4.dpuf
  यह आर्टिकल कैसा लगा comments जरूर करे , ताकि हम और useful knowledge post कर पाये। और अगर आप के पास कोई motivational Hindi story या article है तो हमे भेजे हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ पोस्ट करेंगे। Thanks . हमारी e-mail id- [email protected] है।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *