story on opportunity in hindi . अवसर

story on opportunity in hindi 
जिस तरह सफल होने के लिए व्यक्ति के अंदर धैर्य , सीखने की ललक और लगनशील होना आवश्यक है। उसी तरह जॉब को लेकर कभी बेपरवाह नही होनी चाहिए , उसी तरह अवसर को अपनाने का भी गुण होनी चाहिए।
समर और मानव दोनो अलग – अलग शहर से है, और दोनो ने एक ही क्लास में एडमीशन लिया, दोनो बहुत ही स्मार्ट और इंटेलीजेंट। क्लास के दिनो में दोनो के बीच हमेशा कॉम्पीटीशन लगा रहता था। ये लोग सर्वश्रेष्ठ के नीचे की चाह ही नही रखते थे।

समर सिर्फ पढ़ाई पे फोकस करता था, वहीं मानव अन्य कार्यक्रमों में भी भाग लेता था। दोनो ने अपना कॉलेज कम्प्लीट किया, अच्छे जगह से इन्टर्नशीप किया, अब बारी थी अच्छी जगह पे जॉब करने का, कैरियर बनाने का, लेकिन समर टॉपर होने के गुरूर से कहीं उसको पैकेज ठीक नही लगता तो कहीं उसको जॉब पोस्ट, वर्क नही जम पाता, समर हर कम्पनी में इंटरव्यु के लिए जाता और वहॉ वो सलेक्ट भी हो जाता, लेकिन हमेशा कुछ न कुछ कंडीशन से वो जॉब ज्वाइन नही कर पाता, दूर है, माहौल सही नही है, बॉस का बिहेवियर अच्छा नही है, ऐसे टाल – मटोल करके एक से दो महीने करता फिर ड्रॉप कर लेता, ऐसे करीब एक – दो साल वो यहीं करता रहा, हर टाइम बस इंटरनेट, न्युजपेपर में जॉब तलासते रहता। समर के पास सटिस्फेक्शन न होने से, धैर्य की कमी के वजह से आज भी उसके हाथ में बेरोजगारी ही लगी है, अपने खर्च निकालने के लिए वो सुबह सबके घरो में अखबार डालने का काम करता है। समर आज श्रेष्ठ पाने के चक्कर में बहुत कुछ ठुकरा दिया है, और अब बैठकर केवल इंतजार कर रहे है, अच्छे अवसर तलाश रहे है। वहीं मानव भी टॉपर था, लेकिन उसने जॉब करने , कैरियर बनाने का एक ग्राफ बना रखा था, इसके साथ ही मानव को काम करने में,  कुछ नया सीखने के लिए जिज्ञासा होती थी, और उसके इसी भावना से उसको आगे बढ़ने में बहुत सहयोग मिला। मानव को इंटर्नशीप के बाद एक अच्छी कम्पनी में ऑफर मिला, कम सैलरी और काम बहुत ज्यादा। ऐसे समय में हमें ऐसे लोग भी बहुत मिलते है जो हमे जिंदगी की ओर पीछे धकेलती है, जब भी मानव का किसी से सामना होता तो लोग उससे कहते ” क्या मतलब इतना भागदौड़ का, कोल्हु के बैल जैसे काम करवाते है,  कहीं और देखो “

पढ़े – लोग हमेशा कुछ न कुछ कहेंगे
      जो होता है अच्छे के लिए होता है

 लेकिन लोगो के बातों को नजरअंदाज करके मानव कहता ” जब तक काम सीखेंगे नही, मेहनत नही करेंगे तो जिंदगी में सफल कैसे होंगे। आज अपने इसी रवैये से मानव ने कम्पनी में असिस्टेंट मैनेजर की पोस्ट हॉसिल कर ली है।
   जी हॉ जैसा आपके कार्य होता है, वैसे ही आपका मिजाज होना चाहिए और जैसी आपके पोस्ट होती है वैसी ही आपकी बाते होनी चाहिए।
हम हमेशा अवसरो के बीच में रहते है, अवसर हमारे सामने आते – जाते रहते है , पर कई बार हम उसे पहचान नही पाते और कई बार इसलिए चुक जाते है क्योकि हम बड़े अवसरो के तलाश में रहते है। अवसर बड़ा या छोटा नही होता, हमे हर अवसर का भरपुर उपयोग करना चाहिए। ” हमे अवसर ही नही मिला ” ये लाइन महज अपने जिम्मेदारी से भागने और गलती को छुपाने का बस एक बहाना है , इसलिए कहते है अवसर को हाथ से यूं न गवाओं। 
   लेखक    
   Maneesha Madaria
    लेखक   
     Maneesha Madaria
  You Must Read Also………
————————————————————-
 यह स्टोरी अगर आपको पसंद आई है तो like करेँ और ज्यादा से ज्यादा लोगोँ को share करेँ और comments करें। ताकि positivity सभी लोगो तक पहुच पाए। अगर आपके पास कोई अच्छी story , article या  फिर कोई useful नॉलेज हो तो जरुर share करेँ , उसे हम आपके नाम और फोटो के साथ publish करेंगे। हमारा e-mail id- [email protected] है।

Get Moral Mantra Updates by email

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *