Success Mantra Best Motivational Story In Hindi. सफ़लता का मन्त्र

 Saflta ka mantra( Success Mantra ) story in hindi

mendak ki kahani hindi me

एक बार रास्ते से जाते हुए दो मेंढक एक गहरे पथरीले गड्ढे में गिर जाते हैं, दोनों पूरी ताकत से बाहर निकलने की कोशिश करते हैं लेकिन सफल नहीं हो पाते। यह देख कर और भी आसपास के कई मेंढक गड्ढे के पास आ जाते हैं। दोनों में फिर बाहर निकलने के लिए उछलना शुरू करते हैं , दोनों को पत्थरो से कई चोट लगती है। बाहर खड़े मेंढक दोनों को लहूलुहान देख जोर – जोर से चिल्लाने लगते हैं – ” तुम बाहर नहीं निकल पाओगे, इस गड्ढे में बहुत मुश्किलें पत्थर हैं ,
यह बहुत ही गहरा गड्ढा है, तुम नहीं निकल पाओगे, तुम जितने प्रयास करोगे उतने घायल हो जाओगे क्यों दर्द भरी मोत चाहते हो। ” इस तरह कहीं सारी बातें बाहर खड़े मेंढक चिल्लाने लगते हैं। दोनों मेंढक प्रयास करते रहते हैं उनमें से एक मेंढक कुछ देर बाद एक कोने में निराश होकर बैठ जाता है, जबकि दूसरा मेंढक कोशिश करता रहता है। बाहर वाले मेंढक और जोर – जोर से चिल्लाते हैं – ” तू बाहर नहीं आ पाएगा, तू भी आराम से बैठकर मौत का इंतजार कर। ” वगैरह-वगैरह।
पर वह मेंढक कोशिश करता रहता है और कोशिश करते करते अचानक गड्ढे से बाहर आ जाता है।
बाहर खड़े सभी मेंढक हैरान हो जाते हैं कि आज तक जो भी मेंढक इस गड्ढे में गिरा बाहर नहीं आ पाया पर यह कैसे बाहर आ गया।
सभी मेंढक उसके पास जाकर उसकी तारीफ करते हैं और पूछते हैं – ” जो आज तक कोई नहीं कर पाया, यहां तक कि तेरे साथ गिरा मेंढक भी बाहर नहीं निकल पाया, तू कैसे आ गया ?”
तभी पीछे से एक मेंढक बोलता है – ” अरे भाई लोगों उससे पूछने से कोई मतलब नहीं यह कुछ नहीं सुनेगा क्योंकि यह तो जन्म से ही बहरा है, सुन नहीं सकता।”
उस बहरे मेंढक ने किसी की बात सुनी ही नहीं थी। जब सभी चिल्ला रहे थे तो उसे लगा कि सभी कह रहे हैं कि तू कर सकता है, तू ऊपर आ जाएगा , कोशिश कर। यह समझ कर वह बिना निराश हुए कोशिश करता रहा। जबकि दूसरा मेंढक जो कोशिश कर रहा था वह दूसरों की बातों को सुन सुनकर उदास – निराश हो गया और उसे भी लगा कि इतने मेंढक बोल रहे हैं तो सही में यह नहीं हो पाएगा और वह गड्ढे में ही मर गया।

MORAL – 1.- उस मेंढक की तरह हमें भी बिना किसी की नेगेटिव बातों पर ध्यान दिए अपनी कोशिश करते रहना चाहिए।
2.- अगर हमें कभी किसी संघर्षरत व्यक्ति को कुछ कहने का मौका मिले तो हमेशा उसे प्रेरित करना चाहिए न कि निराश। हमारी कही गई बातें भी उसकी सफलता और असफलता में बहुत बड़ा योगदान देती है।

 You Must Read Also………

 ——————————————————

यह आर्टिकल कैसा लगा comments जरूर करे , ताकि हम और useful knowledge post कर पाये। और अगर आप के पास कोई motivational Hindi story या article है तो हमे भेजे हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ पोस्ट करेंगे। Thanks . हमारी e-mail id- [email protected] है।

Moral Mantra की अगली post प्राप्त करने के लिए अपना email id डाले।

One Comment

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *